M. Arman
  • M. Arman
    (M.A, University of Allahabad) (NET)
  • HONORARY CHAIRMAN

DIRECTOR की कलम से..

प्यारे परीक्षार्थियों,
आपने अकसर लोगों को कहते हुए सुना होगा,...“जिसको सरकारी नौकरी मिल गई उसको मानो भगवान से भेंट हो गया”

इस सोच के दो पहलु हैं– पहला - सकारात्मक पहलु कि, जिसको सरकारी नौकरी मिल गई उसकी मानो सभी समस्याएँ दूर हो गईं | प्राइवेट जॉब के विपरीत सरकारी नौकरी उसे समाज में प्रतिष्ठा, अच्छे भविष्य की गारंटी, स्थायित्व, अच्छा वेतन, आरामदायक कार्यकारी जीवन के साथ-साथ सरकारी नौकरी आपको समाज और देश की सेवा करने का अवसर भी प्रदान करता है |

दूसरा – नकारात्मक पहलु कि, सरकारी नौकरी पाना इतना आसान नहीं | इसे पाने के लिए एक बड़े ही कठिन और चुनौतीपूर्ण प्रतियोगिता परीक्षा से गुजरना पड़ता है | लेकिन यह पूर्णतः सच नहीं है | ये उनलोगों के कथन हैं जो दिशाहीन तैयारी के साथ कई वर्षों से इन परीक्षाओं में बैठ रहे हैं | हमारा अनुभव है कि अगर सही रणनीति के साथ तैयारी की जाए तो साल भर की तैयारी से इन्हें साधा जा सकता है | यहीं हमारा रोल महत्वपूर्ण हो जाता है | हमारे पास अनुभवी और योग्य शिक्षकों की एक संपूर्ण टीम है जो आपके अन्दर वैज्ञानिक सोच और विश्लेषणात्मक बुद्धि का विकास करते हैं ताकि आप संयम के साथ एक बेहतर रणनीति के द्वारा अपने लक्ष्य को साध सकें | ये संभव है और हमने ऐसा कर दिखाया है |

हमारा मानना है कि सुनिश्चित लक्ष्य और उचित मार्गदर्शन में.... बदलते परीक्षा पैटर्न, पाठ्यक्रम के गहन अध्ययन, बेहतर समय प्रबंधन और निरंतर अभ्यास नामक चार सूत्र पर एक साल तक यदि सही रणनीति के साथ मेहनत की जाए तो सफलता आपके कदम अवश्य ही नहीं बल्कि जल्दी भी चूमेगी |

MD. ARMAN

HONORARY CHAIRMAN
CAREER MANTRA
GROUP OF INSITITUTIIONS

M.R. Alam
  • M.R. Alam
    (MBA)
  • DIRECTOR

Bio

Lorem ipsum dolor sit amet, consectetur adipiscing elit, sed do eiusmod tempor incididunt ut labore et dolore magna aliqua. Enim ad minim veniam dolor sit amet, consectetur adipiscing elit, quis nostrud exercitation.

T. Arman
  • T. Arman
    (B.COM)
  • DIRECTOR

Bio

Lorem ipsum dolor sit amet, consectetur adipiscing elit, sed do eiusmod tempor incididunt ut labore et dolore magna aliqua. Enim ad minim veniam dolor sit amet, consectetur adipiscing elit, quis nostrud exercitation.